Football facts: जानें कैसे बनता है फुटबॉल, बहुत रोचक हैं बनाने की प्रक्रिया

Football facts: फुटबॉल दुनिया का सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक है और इसका बहुत ही पुराना इतिहास है। फुटबॉल की बढ़ती लोकप्रियता आज पूरे दुनिया से लेकर भारत तक तहलका मचा रहा है। ये तो शायद सब को पता होगा कि फुटबॉल कब से शुरू हुआ और इसका इतिहास क्या रहा है, लेकिन ये बनता कैसे है शायद ही आपको मालूम हो तो आइए जानते हैं इस लेख के माध्यम से कि फुटबॉल बनता कैसे है | आज से बहुत साल पहले फुटबॉल अलग प्रकार का होता था कहने का अर्थ यह है कि वर्तमान में जिस प्रकार फुटबॉल बनता है,वह पहले से बहुत आसान हो चुका है। पुराने समय में इसको बनाने की क्रिया बहुत ही जटिल थी।

Football facts: फुटबॉल दुनिया का सबसे लोकप्रिय खेलों में से एक है और इसका बहुत ही पुराना इतिहास रहा है। फुटबॉल की बढ़ती लोकप्रियता आज पूरे दुनिया से लेकर भारत तक तहलका मचा रहा है। ये तो शायद सब को पता होगा कि फुटबॉल कब से शुरू हुआ और इसका इतिहास क्या रहा है, लेकिन क्या आपको ये पता है कि फुटबॉल कैसे बनता है? तो आइये आज के इस लेख के माध्यम से जानते हैं कि फुटबॉल कैसे बनता है और इसकी प्रक्रिया क्या है?

Football facts: बहुत जटिल थी पहले की प्रक्रिया 

Football facts: आज से बहुत साल पहले फुटबॉल अलग प्रकार का होता था कहने का अर्थ यह है कि वर्तमान में जिस प्रकार फुटबॉल बनता है,वह पहले से बहुत आसान हो चुका है। पुराने समय में इसको बनाने की क्रिया बहुत ही जटिल थी। क्यूंकि खेल उपकरण का यह हिस्सा खेल को झेलने के लिए पर्याप्त नही था। इसका आकर इस प्रकार था कि यह बिल्कुल भी फुटबॉल की जैसा नही दिखता था। समय के साथ – साथ इसके आकर में परिवर्तन होने लगा और मौजूदा वक्त में इसका आकार बिल्कुल अलग हो गया है।

Football Facts: शुरूआती दौर में इस प्रकार बनाए जाते थे फुटबॉल 

Football facts: खेल के शुरूआती समय में कई मामलों में एक फुलाए हुए सूअर के मूत्राशय का उपयोग करके बनाया जाता था। यही वजह है कि फुटबॉल को कभी कभी “पिगस्किन” कहा जाता है।Football facts फुलाए हुए गेंद काफी सस्ते मिलते थे क्यूंकि जानवरों के मूत्राशय कसाई की दुकानों से आसानी से प्राप्त हो जाते थे। लेकिन ये शुरूआती फुटबॉल भी अलग अलग तरह के होते थे और ये मैदान पर अच्छे से काम नही करते थे। जिसके कारण खिलाड़ियों को मैदान पर खेलने में समस्या आती थी और वें अपनी खेल में बेहतर प्रदर्शन नही कर कर पा रहे थे जिसके वजह से उनके टीम मैनेजमेंट ने बाद में इसके लिए शिकायते भी की थी।  

वर्तमान में फुटबॉल बनाने की प्रक्रिया   

Football facts: जानें कैसे बनता है फुटबॉल बहुत रोचक हैं बनाने की प्रक्रिया
Football facts: जानें कैसे बनता है फुटबॉल बहुत रोचक हैं बनाने की प्रक्रिया

Football facts: आजकल, फुटबॉल फुलाए हुए रबर बॉल होते हैं जो प्रोलेट स्फेरायड आकर के होते हैं। ये गाय के चमड़े या कंकाल वाले चमड़े से पूरी तरह ढके होते हैं। गेंद का अनोखा आकार खेलने में काफी अच्छा है और इसे पकड़ना काफी कठिन बनाता है, जिससे खेल में और अधिक चुनौती आती है। फुटबॉल बनाने की आधुनिक प्रक्रिया गाय की खाल को काटकर शुरू होती है। जिसे बेंड या सबसे मजबूत खाल का हिस्सा कहा जाता है। चमड़े को अधिक टिकाऊ बनाने के लिए विशेष रूप से ट्रेंड किया जाता है। इसको बनाने के लिए ड्राई कट प्रक्रिया का उपयोग करके चार पैनलों में काटा जाता है। प्रत्येक पैनल को स्किविंग मशीन से गुजारकर सही वजन और मोटाई में बनाया जाता है। उसके बाद तीन परतों से बना एक कपड़ा अस्तर प्रत्येक पैनल पर सिल दिया जाता है ताकि खेल के दौरान उनका आकार बदल न सके।|   

फुटबॉल बनाने में लगने वालें सामग्री 

Football facts: फुटबॉल बनाने में लगने वाला सामान कुछ इस प्रकार हैं –

फुटबॉल बनाने के लिए रबर ब्लेडर,सिलाई,गाय का चमड़ा और विशेष प्रकार के टांके का इस्तेमाल किया जाता हैं। रबर ब्लेडर विशेष रूप से महत्वपूर्ण है क्योंकि इसकी अखंडता सुनिश्चित करती है कि फुटबॉल में हवा बनी रहे और उचित खेल सुनिश्चित हो सके। कई उद्योगों के लिए कस्टम मोल्डिंग रिलीज एजेंट बनता है। हमारे मोल्डिंग एजेंट फुटबॉल में रबर ब्लेडर के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। जिससे बनाने वाले को रबर ब्लेडर को विकसित करने की अनुमति मिल जाती है।

यह भी पढ़े :-T20 World Cup Heaviest Players: टी-20 के वों 5 खिलाड़ी जिनके भारी वजन वाले शरीर को देखकर थर्राते हैं विरोधी  

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More