पाकिस्तान के नए कोच ने आईसीसी को लगाई फटकार

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने मुख्य कोच के लिए नियुक्त किया है। लेकिन आईपीएल के चलते वो अभी पाकिस्तान की टीम के साथ नहीं जुड़ पाए हैं।

भारतीय टीम के पूर्व कोच गैरी कर्स्टन इस वक्त आईपीएल की टीम गुजरात टाइटंस में बल्लेबाजी कोच की भूमिका निभा रहे हैं। बीच में ही खबर आई थी कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) ने मुख्य कोच के लिए नियुक्त किया है। लेकिन आईपीएल के चलते वो अभी पाकिस्तान की टीम के साथ नहीं जुड़ पाए हैं। अगले महीने यानी 2 जून से टी20 विश्वकप का आयोजन होने वाला है। अब ऐसे में गैरी कर्स्टन विश्वकप से ठीक पहले जब पाकिस्तान के स्क्वॉड का ऐलान होगा उसके एक या दो दिन के बाद टीम से जुड़ पाएंगे। इसी बीच गैरी कर्स्टन ने आईसीसी के द्वारा आयोजित किए जा रहे टूर्नामेंट्स के शेड्यूल पर चिंता व्यक्त की है। दरअसल, गैरी कर्स्टन को लगता है कि हर साल विश्वकप जैसे आयोजन करवाना खतरनाक साबित हो सकता है।

हर साल आईसीसी के टूर्नामेंट करवाना जरूरी नहीं- गैरी कर्स्टन

गैरी कर्स्टन ने टॉकस्पोर्ट से बात करते हुए अपने मन की बात कही। इस दौरान  उन्होंने कहा कि विश्वकप और इसके अलावा अन्य प्रमुख आईसीसी टूर्नामेंट को समय देकर करवाना चाहिए। ना कि एक के बाद एक शेड्यूल, क्योंकि इसमें रूची में कमी हो सकती है। कभी-कभी में इसके लिए बहुत चिंतित हो जाता हूं। लेकिन क्या हर साल आईसीसी के टूर्नामेंट करवाना जरूरी है? बिल्कुल भी नहीं। मेरा मानना है कि हर साल विश्वकप जैसे आयोजन करवाना खतरनाक साबित हो सकता है। क्योंकि अब यह हमेशा हो रहे हैं, वर्ल्डकप जैसे आयोजन का इंतजार करना मजेदार होता है।

टेस्ट के भविष्य को लेकर भी जताई चिंता

गैरी कर्स्टन ने इसके अलावा टेस्ट क्रिकेट को लेकर भी अपनी चिंता व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में टेस्ट क्रिकेट अपनी चमक को खो रहा है। इसके आगे उन्होंने कहा- दक्षिण अफ्रीका जैसे टेस्ट खेलने वाले देश अब इस प्रारूप में ज्यादा शामिल नहीं हो रहे हैं। हमें वास्तव में सावधान रहना होगा कि हमें टेस्ट क्रिकेट को खो न दें। साउथ अफ्रीका जैसे टेस्ट खेलने वाले देशों का साल में चार टेस्ट खेलना मुझे परेशान कर रहा है। ये सोचकर कि टेस् क्रिकेट अब इतना महत्वपूर्ण नहीं रहा है।

ये भी पढ़ें: RCB यदि CSK को हरा भी देती है तो फिर भी प्लेऑफ में नहीं पहुंचेगी, जानिए क्यों

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More