क्रिकेट की गेंद का क्या है इतिहास, कैसे बनती है बॉल, कितनी है कीमत, जानिए सबकुछ

वर्तमान दौर में क्रिकेट तीन प्रारूपों टेस्ट, वनडे और टी-20 फॉर्मेट में खेला जाता है। टेस्ट क्रिकेट में लाल गेंद का, जबकि वनडे और टी-20 में सफेद गेंद का इस्तेमाल किया जाता है।

पहले की तुलना में आज के क्रिकेट का स्वरूप काफी हद तक बदल गया है। आज क्रिकेट टेकनोलॉजी के कारण काफी स्पष्ट हो गया है। अब क्रिकेट में बल्ले से लेकर विकेट व पिच की गुणवत्ता में काफी सुधार हो गया है। वर्तमान दौर में क्रिकेट तीन प्रारूपों टेस्ट, वनडे और टी-20 फॉर्मेट में खेला जाता है। टेस्ट क्रिकेट में लाल गेंद का, जबकि वनडे और टी-20 में सफेद गेंद का इस्तेमाल किया जाता है।

क्रिकेट की गेंद का इतिहास

क्रिकेट की गेंद का इतिहास बताता है कि 17वीं शताब्दी के दौर में क्रिकेट खिलाड़ी ऊन के द्वारा निर्मित गेंद का इस्तेमाल करते थे। इसके कुछ सालों बात या यूं कहें कि आज के दौर में लेदर की गेंद का इस्तेमाल किया जाता है। क्रिकेट जानकारों के मुताबिक लेदर की गेंद का पहली बार 1744 में हुआ था। उस वक्त केवल लाल गेंद का ही प्रयोग क्रिकेट खेलने कि लिए किया जाता था। अगर गेंद के वजन की बात करें तो वर्तमान में इसका कुल वजन 160 ग्राम होता है।

Making process Of cricket ball
फोटो: ट्विटर

कुछ ऐसे तैयार होती है गेंद

क्रिकेट की गेंद बनाने का प्रोसेस काफी महत्वपूर्ण होता है। खासतौर पर हिदुंस्तान में दो जगह की गेंद काफी लोकप्रिय हैं। इसमें से पहला शहर यूपी का मेरठ है और दूसरा पंजाब का जालंधर। इन दोनों जगहों पर निर्मित गेंद की क्वालिटी का अच्ची मानी जाती है। क्रिकेट बॉल के निर्माण के लिए सबसे पहले कॉर्क की जरूरत होती है। इसके बाद ही कॉर्क पर लेदर की पट्टी चढ़ाई जाती है। इसके बाद लेदर को सुखाया जाता है और इसकी सिलाई की जाती है। गेंद बनाने में सिलाई ही एक ऐसा भाग है जिसके आधार पर गेंद की गुणवत्ता निर्भर होती है। गेंद को क्वालिटी को चेक करने के लिए इसे 1400 पाउंड के वजन को झेलने वाले टेस्ट से गुजरना पड़ता है। यदि गेंद इतना वजन नहीं झेल पाती है तो इसे रिजेक्ट कर दिया जाता है।

क्या है गेंद की कीमत

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैचों की गेंद की कीमत आमतौर पर 15 हजार रूपये तक होती है। लेकिन कुछ कंपनी एक गेंद के लिए 20 हजार रूपये तक लेती हैं। कुल मिलाकर गेंद की कीमत कंपनी पर निर्भर करती है। 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More