जानिए IPL और PSL में है कितना बड़ा अंतर

इस लीग में विदेशी खिलाड़ियों के अलावा भारतीय युवा खिलाड़ियों पर भी जमकर पैसा खर्च किया जाता है।

वर्तमान समय में आईपीएल दुनिया की सबसे बड़ी टी-20 क्रिकेट लीग है। साल 2008 से शुरू हुआ आईपीएल में आज दुनिया का हर खिलाड़ी हिस्सा लेने के लिए बेताब रहता है। इसका कारण आईपीएल का दुनिया की सबसे बड़ी लीग होने के साथ-साथ इसमें बेसुमार पैसा भी शामिल है। इस लीग में विदेशी खिलाड़ियों के अलावा भारतीय युवा खिलाड़ियों पर भी जमकर पैसा खर्च किया जाता है। आज के समय में आईपीएल दुनिया की सबसे महंगी लीग है। इन सब के बाद भी पड़ोसी देश पाकिस्तान कुछ लोग आईपीएल को पीएसएल से तुलना करने की हिमाकत करते हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको आईपीएल और पीसएल के बीच की कुछ बड़े अंतर के बारे में बताने जा रहे हैं।

प्राइज मनी में कितना है अंतर?

भारत और पाकिस्तान के टी-20 लीग यानी आईपीएल और पीएसएल में जो सबसे बड़ा अंतर है, वो प्राइज मनी का है। हम इस लेख के पहले ही बता चुके हैं कि आईपीएल दुनिया की सबसे महंगी लीग है। अगर बात करें भारत के आईपीएल में विनर टीम के प्राइज मनी की तो यहां पर खिताब अपने नाम करने वाली टीम को 20 करोड़ रुपये मिलते हैं। जबकि पीएसएल में विनर टीम को को मात्र 3.4 करोड़ रुपये मिलते हैं। जो कि अपने आप में एक बहुत बड़ा अंतर है।

कितनी टीमें लेती हैं हिस्सा?

प्राइज मनी की तरह इन दोनों लीग में हिस्सा लेने वाली टीमों की संख्या में भी काफी अंतर है। एक तरफ जहां आईपीएल में कुल 10 टीमें हिस्सा लेती हैं, तो वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के पीएसएल में मात्र 6 टीमें ही हिस्सा लेती हैं।

जब-जब भी आईपीएल और पीएसएल की तुलना की बात होती है तो सब लोग ये मानते हैं कि पीएसएल का आईपीएल से कोई मुकाबला नहीं है। जो कि सच भी है। लेकिन कुछ पाकिस्तानी पूर्व क्रिकेटरों को झूठ बोलने कि ऐसी आदत हो गई है कि वो जान कर भी ये नहीं मानना चाहते कि आईपीएल, पीएसएल की तुलना में बड़ी लीग है। खैर कई ऐसे पाकिस्तानी क्रिकेटर भी हैं जो सच्चाई को स्वीकार करते हैं और मानते हैं कि आईपीएल ही दुनिया की सबसे बड़ी लीग है।

ये भी पढ़ें: साइना नेहवाल का जन्म, आंकड़े, करियर और पुरस्कार

स्पोर्ट्स से जुड़ी अन्य खबरें जैसे, cricket news और  football news के लिए हमारी वेबसाइट hindi.sportsdigest.in पर log on 

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More