ICC के इस नए फैसले से खिलाड़ियों को मिलेगी राहत, जानिए क्या है ये नियम?

बता दें, ये फैसला साउथ अफ्रीका के डरबन में लिया गया। आईसीसी की सालाना मीटिंग में इस निर्णय को लिया गया है।

आईसीसी के एक फैसले से क्रिकेटर्स को बड़ी राहत मिलने वाली है। दरअसल, पहले स्लो ओवर रेट के लिए 100 फीसदी मैच फीस काटी जाती थी, लेकिन अब इस नियम को आईसीसी ने बदल दिया है। नए नियम के तहत अब टेस्ट क्रिकेट में 50 फीसदी ही जुर्माना लगाया जाएगा। बता दें, ये फैसला साउथ अफ्रीका के डरबन में लिया गया। आईसीसी की सालाना मीटिंग में इस निर्णय को लिया गया है। आईसीसी के चीफ एग्जीक्यूटिव्स कमेटी ने इसको मंजूरी दी है। इसके बाद अब ओवर गति को बनाए रखने के लिए खिलाड़ियों को सही सैलरी सुनिश्चित हो सके।

बता दें, यदि कोई टीम 80 ओवरों में नई गेंद लेने से पहले आउट हो जाती है, तो धीमी ओवर गति होने पर भी ओवर रेट से जुड़ा कोई जुर्माना नहीं लगाया जाएगा, क्योंकि यह 60 ओवर की समय सीमा से अधिक है। इस बारे में बात करते हुए पुरुष कमेटी के प्रमुख सौरव गांगुली ने कहा कि, “पुरुष क्रिकेट कमेटी को मजबूती से लगा कि ओवर रेट पेनल्टी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप पॉइंट्स के रूप में जारी रहेगी, लेकिन यह सिफारिश की गई कि खिलाड़ियों की 100 फीसदी मैच फीस नहीं काटी जानी चाहिए। हमारा मानना है कि इसके जरिए हम ओवर रेट को भी बनाए रखेंगे और खिलाड़ियों को टेस्ट क्रिकेट खेलने से दूर भी नहीं करेंगे।”

गौरतलब है कि डब्ल्यूटीसी फाइनल 2023 में भारत और ऑस्ट्रेलिया दोनों ही टीमों के खिलाड़ियों ने धीमी ओवर गति के कारण मैच फीस गंवानी पड़ी थी। इस दौरान भारतीय खिलाड़ियों की पूरी मैच फीस काटी गई थी, जबकि टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ियों की 80 फीसदी मैच फीस काटी गई थी।

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More